शिशु पेट में क्या करता है shishu Pet me Kya karta hai

शिशु पेट में क्या करता है

पेट में शिशु की एक अलग दुनिया होती है जिसमे वह अजीब-अजीब हरकते करता रहता है
आपका शिशु गर्भ में 2 महीने का होने पर नॉर्मल क्रियाए करने लग जाता है जैसे इधर-उधर मुड़ना, हाथ-पैर हिलाना, हिचकी लेना और आपके द्वारा खाये जाने वाले खाने का रस चुसना आदि
शिशु पेट में  2 महीने 15 दिन का होने पर अपने सिर को नीचे झुकाना और घुमाना, हाथो से चेहरे को छूना, जम्हाई लेना और अपने जबड़े को खोलना आदि कार्य करने लग जाता है
शिशु पेट में तीन महीने का होने पर अपनी आँखों को घुमाने लग जाता है
शिशु गर्भ में पांच महीने का होने पर आप भी शिशु की हलचल महसूस करने लगेगी इस महीने से शिशु ज्यादा हाथ-पांव चलाने लग जाता है
6-7 वे महीने शिशु हिचकियाँ लेने लग जाता है जब शिशु हिचकी लेगा तो आपको किक महसूस होगा इन महीनो में amniotic fluid की थेली में इधर-उधर घूमने लग जाता है और शिशु तेज आवाज सुनकर उछलता भी है
8 महीने में शिशु की किक छोटी पर काफी तेज होगी क्योकि इस महीने तक शिशु मजबूत हो जायेगा लेकिन पेट में जगह कम हो जाएगी जिससे किक की संख्या भी कम हो जाएगी यदि आप पहली बार माँ बन रही है तो शिशु 8 वे महीने के लास्ट में अपना सिर नीचे कर लेगा
9 वे महीने में शिशु काफी बड़ा हो जाता है अब जगह कम होने के कारण किक नहीं मार पायेगा अब तक शिशु अंगूठा चुसना सिख गया है कभी-कभी अंगूठा मुंह से बाहर निकलने पर ढूंढने का प्रयास करेगा तब आपको किक महसूस हो सकता  है दूसरी बार माँ बन रही है तो इस महीने शिशु अपना सिर नीचे करेगा (जन्म लेने वाली स्थिति के लिए तैयार )

shishu Pet me Kya karta hai

 
Pet me shishu ki ek alag Duniya hoti hai jisame vah ajib-ajib harkate karta rahta hai
aapKa shishu garbh me 2 mahine Ka hone par normal kriyae karne lag jata hai jaise idhar-udhar mudana, hath-pair hilana, hichaki lena aur Aapke Dwara khaye jane vale Khane Ka ras chusana aadi
shishu Pet me 2 mahine 15 din Ka hone par Apne sir ko niche jhuKana aur Ghumana, hatho se Face ko chhuna, jamhai lena aur Apne jabde ko khaolana aadi Kary karne lag jata hai
shishu Pet me tin mahine Ka hone par Apni Aankhon ko Ghumane lag jata hai
shishu garbh me paanch mahine Ka hone par aap bhi shishu ki halchal mahsus karne lagegi is mahine se shishu Jyada hath-paanv chalane lag jata hai
6-7 ve mahine shishu hichkiyan lene lag jata hai jab shishu hichaki lega to Aapko kik mahsus Hoga in mahino me amniotic fluid ki theli me idhar-udhar Ghumane lag jata hai aur shishu tej aavaj sunkar uchhalta bhi hai
8 mahine me shishu ki kik Chhoti par Kafi tej hogi kyoki is mahine tak shishu mjabut ho jayega lekin Pet me jgah kam ho jaEggi Jisse kik ki Sankhya bhi kam ho jaEggi Yadi aap pahli bar man ban rahi hai to shishu 8 ve mahine ke lasta me Apna sir niche kar lega
9 ve mahine me shishu Kafi bada ho jata hai ab jgah kam hone ke Karan kik nahin mar paayega ab tak shishu anguthaa chusana sikha gaya hai kabhi-kabhi anguthaa munh se bahar nikalne par dhundhane Ka prayas Karega tab Aapko kik mahsus ho skata hai duSiri bar man ban rahi hai to is mahine shishu Apna sir niche Karega (janm lene vali sthiti ke lea taiyar )

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *