शिशु पहली बार पोट्टी कब करता है shishu pahli bar poty kab karta hai

शिशु पहली बार पोट्टी कब करता है

गर्भ में आपके शिशु को सारे जरुरी पोषक तत्व मिलते है और ये पोषक तत्व प्लेसेंटा के माध्यम से शिशु तक पहुँचते है

pregnancy के दौरान जब शिशु गर्भ में 21 हफ्तों का हो जाता है तो उसके शरीर में पोट्टी बनना शुरू हो जाती है

शिशु की इस पोट्टी को meconium कहते है शिशु यह पोट्टी जन्म लेने के बाद ही त्याग करता है

शिशु द्वारा पहली बार त्याग की जाने वाली पोट्टी गहरी काली और टार(चारकोल) की तरह होती है स्वस्थ बेबी को ये पोट्टी pass करने में 24 घंटे लगते है कभी-कभी 48 घंटे तक लग सकते है परन्तु premature बेबी को ये पोट्टी pass करने में ज्यादा समय लगता है

शिशु को स्तनपान करवाने के बाद पोट्टी का रंग ग्रीन हो जाता है इसके बाद धीरे-धीरे येलो में change हो जाती है

यदि किसी कारणवश शिशु के जन्म के दौरान किसी प्रकार की complication आने से बेबी गर्भ में ही अपनी पहली पोट्टी कर देता है तो तुरंत बेबी को गर्भ से बाहर निकाला जाता है यदि labor pain नहीं आये तो cesarean delivery की जाती है

यदि सही time पर सही फैसला नहीं लिया जाये तो माँ और शिशु दोनों की जान को खतरा हो सकता है

shishu pahli bar poty kab karta hai

garbh me Aapke shishu ko sare jaruri poshak tadv Milte hai aur ye poshak tadv plessenta ke madhyam se shishu tak pahunchate hai
pregnancy ke dauran jab shishu garbh me 21 hafton Ka ho jata hai to Uske sharir me poty Banna shuru ho jati hai
shishu ki is potati ko meconium kahte hai shishu Yah poty janm lene ke bad hi tyag karta hai
shishu Dwara pahli bar tyag ki jane vali poty gahri Kali aur tar(charakol) ki tarh hoti hai Swasth baby ko ye poty pass karne me 24 Hour lgate hai kabhi-kabhi 48 Hour tak lag sakte hai parntu premature baby ko ye poty pass karne me Jyada Samay lgata hai
shishu ko stanpan karvane ke bad poty Ka Color grin ho jata hai Iske bad dhire-dhire yelo me change ho jati hai
Yadi kisi Karnavsh shishu ke janm ke dauran kisi prKar ki complication aane se baby garbh me hi Apni pahli poty kar deta hai to turnt baby ko garbh se bahar niKala jata hai Yadi labor pain nahin aaye to cesarean delivery ki jati ha
Yadi sahi time par sahi faisala nahin liya jaye to man aur shishu dono ki jan ko khatra ho skata hai
 

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *