शिशु की आंखों में काजल लगाना सुरक्षित है या नहीं shishu ki aankhao me Kajal lagana surakshait hai ya nahin

शिशु की आंखों में काजल लगाना सुरक्षित है या नहीं

baby care
शिशु की आंखों में काजल लगाना सुरक्षित नहीं माना है काजल लगाने से शिशु की आँखों में कई प्रकार की प्रॉब्लम हो सकती है जैसे आँखों में पानी आना, खुजलाहट होना और इससे एलर्जी होने का खतरा भी रहता है इसके अलावा शिशु को स्नान कराते समय काजल आँखों से धुल जाता है इस समय इसके छोटे-छोटे कण आखों संकरे छिद्रों में जा सकते है जिससे यह छिद्र बंद हो जाते है और इससे संक्रमण हो सकता है
इनके अलावा काजल लगाने से आँखों में गंदगी रहती है जिससे आंख के बीच का कॉर्निया कमजोर हो जाता है जिससे आँखों में जलन की समस्या हो सकती है कठोर उंगुलियो व नाखून से शिशु की आंखों में  चोट लग सकती है और प्रॉब्लम ज्यादा बढ़ने पर  शिशु के आँखों की रोशनी भी जा सकती है

बाजार में मिलने वाले काजल के दुष्प्रभाव

बाजार में मिलने वाले अधिकतर काजलों में सीसे की मात्रा आती है, जो आपके शिशु के लिए हानिकारक है और यदि आप किसी ब्रांड का काजल नहीं खरीद रहे है तो हो सकता है कि यह प्रोडक्ट आपके लिए बहुत नुकसानदायी साबित हो कुछ ब्रांड्स 100 % नेचुरल और सीसा मुक्त होने का दावा करते हैं परन्तु यह दावा कितना सही है यह कहना मुश्किल है हो सकता है यह बिलकुल ही सुरक्षित ना हों लम्बे टाइम तक इस काजल का यूज़ करने से शरीर में सीसा एकत्रित हो सकता है जिससे आपके शिशु के दिमाग को कमजोर व बोन मैरो बनना बंद हो सकता है विशेषज्ञों का कहना हैं कि सीसे की मात्रा बढ़ने से एनीमिया और दौरे पड़ने की प्रॉब्लम हो सकती है
शिशु  की आंखों में काजल लगाने की परंपरा हमारे देश में पुराने समय चलता आ रहा है घर के बड़े बुजुर्ग शिशु को बुरी नजर से बचाने के लिए काजल लगाने की सलाह देते है बुजुर्गो का मानना है कि काजल लगाने  से शिशु की आंखें सुन्दर, बड़ी और आकर्षक बनती है  परन्तु कई शोध होने के बाद भी यह बात साबित नहीं पायी
परन्तु यदि आप यह मानती है कि काजल शिशु को बुरी नजर से बचाता है और काजल लगाना चाहती है तो आँखों के अलावा कहीं और लगाये जैसे शिशु के पैर के तलवे में, कान के पीछे या फिर माथे पर टीका लगा सकती है जिससे आपका शिशु सुरक्षित रहेगा

shishu ki aankhao me Kajal lagana surakshait hai ya nahin

shishu ki aankhaon me Kajal lagana surakshait nahin mana hai Kajal lagane se shishu ki Aankhon me kai prKar ki Problem ho Sakti hai jaise Aankhon me paani aana, khaujalahat Hona aur Isse elarji hone Ka khatra bhi rahta hai Iske alava shishu ko snan karate Samay Kajal Aankhon se dhul jata hai is Samay Iske chhotae-chhotae kan aakhaon snkare chhidron me ja sakte hai Jisse Yah chhidr Band ho jate hai aur Isse snkramn ho skata hai
inake alava Kajal lagane se Aankhon me gndagi rahti hai Jisse aankha ke bich Ka korniya kamjor ho jata hai Jisse Aankhon me jaln ki Problem ho Sakti hai kathor unguliyo v nakhaun se shishu ki aankhaon me chota lag Sakti hai aur Problem Jyada bdhne par shishu ke Aankhon ki roshani bhi ja Sakti hai
Bazaar me milane vale Kajal ke dushaprabhav
Bazaar me milane vale adhikatr Kajalon me sise ki matra aati hai, jo Aapke shishu ke lea haniKarak hai aur Yadi aap kisi brand Ka Kajal nahin kharid rahe hai to ho skata hai ki Yah product Aapke lea bahut nukasanadayi sabit ho kuch brands 100 % nechural aur sisa mukt hone Ka dava karte hain parntu Yah dava kitana sahi hai Yah kahna mushkil hai ho skata hai Yah bilakul hi surakshait na hon lambe time tak is Kajal Ka Youj karne se sharir me sisa ekatrit ho skata hai Jisse Aapke shishu ke dimag ko kamjor v bon mairo Banna Band ho skata hai viSheshjYon Ka kahna hain ki sise ki matra bdhne se enimiya aur daure pdane ki Problem ho Sakti hai
shishu ki aankhaon me Kajal lagane ki parnpara Humare desh me purane Samay chalta aa raha hai ghar ke bade bujurg shishu ko buri njar se bachhane ke lea Kajal lagane ki salah dete hai bujurgo Ka manada hai ki Kajal lagane se shishu ki aankhen sundar, badi aur aakarshak bnati hai parntu kai shodh hone ke bad bhi Yah Baat sabit nahin paayi
parntu Yadi aap Yah manati hai ki Kajal shishu ko buri njar se bachhata hai aur Kajal lagana chahati hai to Aankhon ke alava kahin aur lagaye jaise shishu ke pair ke talve me, Kan ke pichhe ya Phir mathe par tiKa laga Sakti hai Jisse aapKa shishu surakshait rahega

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *