शिशु गर्भ में ज्यादा हलचल कब करता है shishu garbh me Jyada halchal kab karta hai

शिशु गर्भ में ज्यादा हलचल कब करता है

Baby kicks शिशु के सही स्वास्थ्य और विकास को दर्शाते है kicks अच्छे स्वास्थ्य का चिन्ह है और इससे पता चलता है कि baby अन्दर सक्रिय है
  Pregnancy के दौरान आप जब नये  वातावरण में जाते है तो baby तुरंत   प्रतिक्रिया दिखाना शुरू कर देता है विशेष रूप से तब जब वह कोई नयी  आवाज सुनता है
जब pregnant महिला बाई करवट लेकर सोती है तब शिशु ज्यादा kick मारना शुरू कर देता है क्योकि जब माँ बाई करवट लेकर सोती है तो भ्रूण में रक्त संचार बढ़ जाता है जिसके कारण शिशु की हलचल बढ़ जाती है 
ज्यादातर आपके खाना खाने के बाद शिशु के kicks बढ़ जाते है
  यदि आपके शिशु की गर्भ में गतिविधियाँ कम है तो यह चिंता का कारण है क्योकि इसका अर्थ है शिशु को पर्याप्त ऑक्सीजन की पूर्ति नहीं हो पा रही है 
Pregnancy के 36 हफ्ते पुरे होने के बाद baby kicks कम हो जाते है क्योकि शिशु बड़ा होने के कारण पर्याप्त जगह नहीं मिल पाती है

shishu garbh me Jyada halchal kab karta hai

Baby kicks shishu ke sahi svasthy aur viKas ko darshate hai kicks Acche svasthy Ka chinh hai aur Isse pata chalta hai ki baby andar sakriy hai
  Pregnancy ke dauran aap jab naye  vatavarn me jate hai to baby turnt   pratikriya diKhana shuru kar deta hai viShesh rup se tab jab vah koi nayi  aavaj sunata hai
jab pregnant mahila bai karvat lekar soti hai tab shishu Jyada kick marana shuru kar deta hai kyoki jab man bai karvat lekar soti hai to bhrun me rakt snchar bdh jata hai jisake Karan shishu ki halchal bdh jati hai
Jyadatar Aapke Khana Khane ke bad shishu ke kicks bdh jate hai
  Yadi Aapke shishu ki garbh me gatividhiyan kam hai to Yah chinta Ka Karan hai kyoki isKa arth hai shishu ko paryapt oksijan ki purti nahin ho paa rahi hai
Pregnancy ke 36 hafte pure hone ke bad baby kicks kam ho jate hai kyoki shishu bada hone ke Karan paryapt jgah nahin mil paati hai

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *