पुत्र प्राप्ति के उपाय putra prapti ke upay

पुत्र प्राप्ति के उपाय

हमारे समाज में ये एक गलत धारणा है कि लड़कियां पराया धन होती है शादी के बाद ससुराल चली जायेगी इसलिए लड़कियां हमारे बुढ़ापे का सहारा नहीं बन पायेगी इस कारण वे चाहते है कि उनके घर एक लड़के का जन्म जरुर हो जो उनका बुढ़ापे में सहारा बनेगा और वंश को बढ़ायेगा
लोगो की इसी सोच की वजह से भारत में लड़का लड़की  का अनुपात बिगड़ता जा रहा है इस वजह ने  एक दूसरी समस्या का जन्म दे दिया है लड़कियां कम होने की वजह से लडको की शादी नहीं हो पा रही है
परन्तु समय के साथ अब धीरे-धीरे लोगो को सोच बदल रही है पढ़े-लिखे लोग लड़का-लड़की में भेदभाव नहीं कर रहे है आज के समय में किसी क्षेत्र में लड़कियां लडको से पीछे नहीं है
फिर भी ज्यादातर लोग चाहते है बेटी होने के साथ उनका एक बेटा हो ,अधिकतर लोग बेटा बेटी दोनों होने को ही कम्पलीट फॅमिली की संज्ञा देते है उनके मन में सवाल है कि पुत्र प्राप्ति के लिए क्या करे पुत्र प्राप्ति के लिए तरह-तरह की दवाइयां लेते है इनके आलावा पुत्र प्राप्ति के लिए योगा और जादू-टोना भी करते है
पुत्र प्राप्ति के उपाय
  1. पुरुष के y शुक्राणु x शुक्राणु के बजाय जल्दी मरते है इसलिए यदि आप पुत्र प्राप्त करना चाहते है तो ovulation से पहले सम्भोग से दूर रहे और ovulation के समय ही सम्भोग करे
ovulation का पता कैसे करे – ovulation का समय पीरियड्स के बीच का होता है परन्तु आप ovulation kit से भी इसका पता लगा सकते है ovulation kit आपको बाजार में मिल जायेगे और टेस्ट करने का तरीका इसके साथ दिया होता है
2. सूरजमुखी के बीज
 सूरजमुखी के बीज खाने से भी पुत्र की प्राप्ति की जा सकती है सूरजमुखी के बीजो में विटामिन E की मात्रा अधिक होती है जो स्पर्म की संज्ञा को बढ़ाते है
  खाने का तरीका – बीजो को बादाम के साथ या फिर दही में डालकर भी खा सकते है
3.प्राचीन ग्रंथो के अनुसार पीरियड्स के बाद के सम दिनों को पुत्र प्राप्ति के दिन बताये गये है आठवां ,दसवां ,बारहवा ,चौदहवां और सौलवा दिन पुत्र प्राप्ति के लिए उपयुक्त माने गये है जिनमे बारहवा ,चौदहवां और सौलवा को ज्यादा उपयुक्त माना गया है
4. पुत्र प्राप्ति के लिए कैलाबश नामक फल को एक असरदार घरेलू उपाय माना गया है 
खाने का तरीका – रोजाना 50 से 60 ग्राम कैलाबश 2-3 महीने तक खाये यदि इसका स्वाद आपको पसंद नहीं आये तो मीठा डालकर खा सकते है
पुत्र प्राप्ति का आयुर्वेदिक नुस्खा – 25 ग्राम अश्वगंधा की जड़ो का चूर्ण आधा लिटर पानी में डालकर तब तक उबाले जब तक पानी ¼ ना रह जाये  बाद में इसमें 100 मिलीलीटर दूध डाले और आधा रहने तक उबाले  बनाये गये मिश्रण के 30 मिलीलीटर में आधा चम्मच घी डाले और सुबह के समय 2-3 महीने तक सेवन करे
 नोट – लड़का पैदा करने के इस आयुर्वेदिक नुस्खे के उपाय को करने से पहले डॉक्टर से सलाह जरुर ले 

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *