गर्भावस्था के आठवें महीने में क्या सावधानियाँ रखनी चाहिए pregnancy ke 8 ve mahine me Kya savadhaniyan rakhani chahiey

गर्भावस्था के आठवें महीने में क्या सावधानियाँ रखनी चाहिए

Pregnancy के दौरान पुरे 9 महीने आपको विशेष सावधानी की जरूरत होती है इसलिए पुरे 9 महीने तक अपना ख्याल चाहिए
परन्तु pregnancy के 8 वे महीने कुछ विशेष सावधानियो की आवश्यकता होती है 8 वे महीने में और उसके बाद कोई भी लम्बा सफ़र ना करे यदि आप घर से दूर है या आपको कही दूर जाना जरुरी है तो आप 7 वे महीने के अंत तक ही सफर करने के कार्य पुरे करे  
Pregnancy के 8 वे महीने में सीढीयो पर चढ़ना-उतना ना करे और यदि चढ़ते-उतरते है तो विशेष सावधानियाँ रखे वरना आपका पैर फिसल सकता है जिसे आपके baby को खतरा हो सकता है 8 वे महीने में ज्यादा वजन उठाने, नीचे झुकने से बचे व एक स्थिति में खडी रहने बचे क्योकि इनसे आपको शारीरिक प्रॉब्लम हो सकती है और शिशु पर ज्यादा जोर पड़ता है जो सही नहीं है इनसे premature delivery होने की संभावना बढ़ जाती है
8 वे महीने में pregnant महिला को अति पोष्टिक आहार लेना चाहिए खूब घी खाए, हरी सब्जियाँ, ड्राई फ्रूट्स, जूस, दूध और खूब पानी पिए जो भी खाये या पिये एक साथ ज्यादा ना खाये बल्कि थोड़ी-थोड़ी देर में थोडा-थोडा करके खाये क्योकि इस समय आपको ज्यादा एनर्जी की जरूरत है
8 वे महीने में आपको विशेष सावधानी रखनी चाहिए थोड़ी सी भी प्रॉब्लम होने पर या आपको आपके शरीर में थोडा सा भी बदलाव दिखने पर तुरंत डॉक्टर की सलाह ले क्योकि कुछ महिलाओ को इस महीने में delivery हो जाती है इसलिए सावधान रहे
8 वे महीने में तनाव से दूर रहे रोज सुबह नार्मल एक्सरसाइज करे और शाम के समय थोड़ी देर पैदल चले जिससे आपको अच्छी नींद आयेगी इस समय अच्छी नींद अति आवश्यक है क्योकि अच्छी नींद नार्मल delivery में मददगार है

pregnancy ke 8 ve mahine me Kya savadhaniyan rakhani chahiey

Pregnancy ke dauran pure 9 mahine Aapko viShesh savadhani ki jarurat hoti hai islea pure 9 mahine tak Apna khayal chahiey
parntu pregnancy ke 8 ve mahine kuch viShesh savadhaniyo ki aavashykata hoti hai 8 ve mahine me aur Uske bad koi bhi lamba spr na kare Yadi aap ghar se dur hai ya Aapko kahi dur jana jaruri hai to aap 7 ve mahine ke ant tak hi sphar karne ke Kary pure kare
Pregnancy ke 8 ve mahine me sidhiyo par chdhna-utana na kare aur Yadi chdhte-utarte hai to viShesh savadhaniyan rakhe vrana aapKa pair fisal skata hai jise Aapke baby ko khatra ho skata hai 8 ve mahine me Jyada wajan (Weight) uthaane, niche jhukane se bachhe v ek sthiti me khaD rahne bachhe kyoki inase Aapko sharirik Problem ho Sakti hai aur shishu par Jyada jor pdata hai jo sahi nahin hai inase premature delivery hone ki snbhaonea bdh jati hai
8 ve mahine me pregnant mahila ko ati poshataik aahar lena chahiey khaub Ghee khae, hari sabjiyan, drai froots, jus, dudh aur khaub paani pie jo bhi khaye ya piye ek Saath Jyada na khaye balki thodi-thodi der me thodaa-thodaa karke khaye kyoki is Samay Aapko Jyada enarji ki jarurat hai
8 ve mahine me Aapko viShesh savadhani rkhani chahiey thodi si bhi Problem hone par ya Aapko Aapke sharir me thodaa sa bhi Badlav dikhane par turnt doctor ki salah le kyoki kuch mahilao ko is mahine me delivery ho jati hai islea savadhan rahe
8 ve mahine me tanav se dur rahe Everyday subah narmal ekSirsaij kare aur sham ke Samay thodi der paidal chale Jisse Aapko Acchi nind aayegi is Samay Acchi nind ati aavashyak hai kyoki Acchi nind narmal delivery me helpgar hai

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *