पहली बार माँ बनने वाली महिलाओ को कौनसी बातों का ध्यान रखना चाहिए pahli bar man Banne vali mahilao ko kaunasi Baaton Ka dhyan rkhana chahiey

पहली बार माँ बनने वाली महिलाओ को कौनसी बातों का ध्यान रखना चाहिए

माँ बनने के बाद ही एक स्त्री के जिम्मेदारी पूर्ण जीवन की शुरुआत होती है
शुरूआती दिनों में शिशु को बार-बार स्तनपान कराये क्योकि इस समय में शिशु को अधिक पोषण की आवश्यकता होती है और यदि स्तनपान के दौरान आपका दूध के पर्याप्त है तो सिर्फ स्तनपान ही करवाये 6 महीने तक ऊपर से कुछ नहीं पिलाये पानी भी नहीं परन्तु यदि शिशु के लिए स्तनपान का दूध पर्याप्त नहीं है तो ऊपर पिला सकते है क्योकि शिशु को भूखा नहीं रखना है
शिशु को शुरूआती दिनों में नहलाना नहीं चाहिए बल्कि केवल स्पंज bath करवाये और ज्यादा देर तक बिना कपडे के ना रखे
शिशु की nappy को थोड़ी-थोड़ी देर में change करती रहे ,ज्यादा देर तक शिशु को गिले में ना रखे जब बेबी पोट्टी करे तो baby wipe से nappy area की सफाई करे गंदगी बिलकुल ना रहने दे और nappy area में rashes होने पर ओलिव ऑइल लगाये nappy area की सफाई का विशेष ध्यान रखे
यदि शिशु रोता है तो इसका अर्थ कि शिशु कुछ असहज महसूस कर रहा है शिशु के रोने का कारण समझ पाना मुश्किल है इसलिए आप स्तनपान कराये ,सहलाये ,nappy check करे और baby की position change करे आपको सारी तरकीब अपनाये जिससे शिशु शांत हो सके
कई बार शिशु नींद आने पर या कच्ची नींद में जागने पर भी रोता है और कई बार तो आप baby के रोने से परेशान हो जाएगी परन्तु बेबी पर कभी भी गुस्सा ना करे उसे आपके प्यार – दुलार की आवश्यकता है गुस्से की नहीं
कई बार शिशु पेट दर्द व गैस की वजह से रोने लगता है इसलिए स्तनपान करवाने के बाद डकार जरुर दिलाये और यदि आपका शिशु लगातार रो रहा है तो डाक्टर से मिले उसे कोई ऐसी परेशानी हो सकती है जिसे आप समझ नहीं पा रही है

pahli bar man Banne vali mahilao ko kaunasi Baaton Ka dhyan rakhana chahiey

man Banne ke bad hi ek stri ke jimmedari purn Life ki shuruaat hoti hai
shuruaati dino me shishu ko bar-bar stanpaan karaye kyoki is Samay me shishu ko adhik poshan ki aavashykata hoti hai aur Yadi stanpaan ke dauran aapKa dudh ke paryapt hai to sirf stanpaan hi karvaye 6 mahine tak upar se kuch nahin pilaye paani bhi nahin parntu Yadi shishu ke lea stanpaan Ka dudh paryapt nahin hai to upar pila sakte hai kyoki shishu ko bhukha nahin rakhana hai
shishu ko shuruaati dino me nahlana nahin chahiey balki keval sponge bath karvaye aur Jyada der tak bina kapde ke na rakhe
shishu ki nappy ko thodi-thodi der me change karti rahe ,Jyada der tak shishu ko gile me na rakhe jab baby potti kare to baby wipe se nappy area ki safai kare gndagi bilakul na rahne de aur nappy area me rashes hone par oliv oil lagaye nappy area ki safai Ka vishesh dhyan rakhe
Yadi shishu rota hai to iska arth ki shishu kuch asahj mahsus kar raha hai shishu ke rone Ka Karan smajh paana mushkil hai islea aap stanpaan karaye ,sahlaye ,nappy check kare aur baby ki position change kare Aapko sari tarkib Apnaye Jisse shishu shant ho sake
kai bar shishu nind aane par ya kachchi nind me jagane par bhi rota hai aur kai bar to aap baby ke rone se Pareshan ho jayrgi parntu baby par kabhi bhi gussa na kare use Aapke pyar – dular ki aavashykata hai gusse ki nahin
kai bar shishu Pet dard v gas ki vajah se rone lgata hai islea stanpaan karvane ke bad dakar jarur dilaye aur Yadi aapka shishu lagatar ro raha hai to Doctor se mile use koi aesi Pareshani ho Sakti hai jise aap smajh nahin paa rahi hai

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *