गर्भावस्था के दौरान आम खाना सुरक्षित है या नही garbhavastha ke dauran aam Khana surakshait hai ya nahi

गर्भावस्था के दौरान आम खाना सुरक्षित है या नही

आम का मौसम आ गया है और गर्भवती महिलाओं के मन में सवाल जरूर आता है कि उन्हें आम का सेवन करना चाहिए या नहीं इसके बारे में विशेषज्ञों का कहना है कि गर्भावस्था के दौरान आम खाना सुरक्षित है विभिन्न पोषक तत्वों से भरपूर आम के सेवन से गर्भस्थ शिशु का बहुत ही तेजी से विकास होता है लेकिन विशेषज्ञों का यह भी कहना है कि बहुत ज्यादा मात्रा में आम का सेवन नुकसानदायी भी हो सकता है

mango during pregnancy
mango during pregnancy

आम खाने के फायदे – आम खाने में बहुत स्वादिष्ट होने के साथ-साथ पोषक तत्वों से भी भरपूर होते है आम आयरन, विटामिन सी विटामिन ए विटामिन बी और पोटेशियम से भरपूर होता है ये सभी गर्भावस्था के लिए महत्वपूर्ण पोषक तत्व है इसके आलावा आम में फाइबर की प्रचुर मात्रा होती है जो कब्ज की रोकथाम में मदद करता है
आम प्राकृतिक रूप से मीठे होते हैं इनमें अन्य फलों की तुलना में अधिक शर्करा होती है इसलिए यदि प्रेगनेंसी के दौरान आपको कुछ मीठा खाने का मन हो तो आप केक और पेस्ट इसके बजाय आम को चुने परन्तु यदि प्रेगनेंसी के दौरान आपको  डायबिटीज की प्रॉब्लम है तो आपको आम खाने की सलाह नहीं दी जा सकती है क्योकि आम में मीठे की उत्तम मात्रा होती है जो आपकी प्रॉब्लम को बढ़ा सकता है
गर्भावस्था की तीसरी तिमाही में गर्भवती महिला को अधिक कैलोरी की आवश्यकता होती है इस समय आप अपने नाश्ते में आम को शामिल कर सकती है क्योकि आम में प्रचुर मात्रा में कैलोरी पायी जाती है परंतु अधिक मात्रा में ना खाएं कम मात्रा में खाएं यदि आप आम को लस्सी या जूस के रूप में खाना पसंद करती है तो मीठे का ध्यान रखें क्योकि प्रेगनेंसी के दौरान ज्यादा मीठा आपकी सेहत के लिए अच्छा नहीं होता है
mango good for health
mango good for health

आम के सेवन में सावधानियां – बाजार में आम खरीदे समय रखे ये सावधानीयां रसायनों द्वारा पकाये गए आम ना खरीदे आम सीजन में ही ख़रीदे क्योकि सीजन में आमो को कृत्रिम रूप से पकाने की संभावना कम हो जाती है आमो को कृत्रिम रूप से पकाने के लिए सबसे अधिक कैल्शियम कार्बाइट का इस्तेमाल किया जाता है यह आपके और शिशु दोनों के लिए घातक साबित हो सकते है
कृत्रिम रूप से पके हुए आमो के दुष्प्रभाव – पेट में गड़बड़, सर दर्द, चक्कर आना, अत्यधिक नींद आना, भ्रम की स्थिति मनोदशा में परिवर्तन, मुंह में छाले, दौरा पड़ना और हाथ-पैरो में सुन होना आदि समस्याए हो सकती है
इसलिए बाजार से स्वस्थ और अच्छे आम खरीदे और उन्हें साफ पानी से धोकर खाये

garbhavastha ke dauran aam Khana surakshait hai ya nahi

aam Ka mausam aa gaya hai aur garbhavti mahilaon ke man me saval jarur aata hai ki unhen aam Ka Seven Karna chahiey ya nahin Iske bare me viSheshjYon Ka kahna hai ki garbhavastha ke dauran aam Khana surakshait hai vibhinn poshak tadvon se bharpur aam ke Seven se garbhasth shishu Ka bahut hi teji se vikas Hota hai lekin viSheshjYon Ka Yah bhi kahna hai ki bahut Jyada matra me aam Ka Seven nukasanadayi bhi ho skata hai
aam Khane ke fayade – aam Khane me bahut Swadishata hone ke Saath-Saath poshak tadvon se bhi bharpur hote hai aam aayarn, vitamin si vitamin e vitamin bi aur potaeshiyam se bharpur Hota hai ye sabhi garbhavastha ke lea mahtvapurn poshak tadv hai Iske aalava aam me Fibar ki prachhur matra hoti hai jo kabj ki rokatham me help karta hai
aam Prakrtik rup se mithe hote hain inamen any phalon ki tulana me adhik sharkara hoti hai islea Yadi Pregnancy ke dauran Aapko kuch mithaa Khane Ka man ho to aap cake aur paste Iske bajay aam ko chune parntu Yadi Pregnancy ke dauran Aapko daayabitij ki Problem hai to Aapko aam Khane ki salah nahin di ja Sakti hai kyoki aam me mithe ki uttam matra hoti hai jo Aapki Problem ko bdhaa skata hai
garbhavstha ki tiSiri timonthi me garbhavti mahila ko adhik kailori ki aavashykata hoti hai is Samay aap Apne nashte me aam ko shamil kar Sakti hai kyoki aam me prachhur matra me kailori paayi jati hai parntu adhik matra me na khaen kam matra me khaen Yadi aap aam ko lassi ya jus ke rup me Khana pasnd karti hai to mithe Ka dhyan rakhen kyoki Pregnancy ke dauran Jyada mithaa Aapki sehat ke lea Accha nahin Hota hai
aam ke Seven me savadhaniyan – Bazaar me aam kharide Samay rakhe ye savadhaniyan Chemicalon Dwara pKaye gaye aam na kharide aam sijan me hi khride kyoki sijan me aamo ko Kritrim rup se pKane ki snbhaonea kam ho jati hai aamo ko Kritrim rup se pKane ke lea Sabse adhik Calcium Karbaita Ka istemal kiya jata hai Yah Aapke aur shishu dono ke lea ghatak sabit ho sakte hai
Kritrim rup se pake hue aamo ke dushaprabhav – Pet me gadbad, Sir dard, chakkar aana, atyadhik nind aana, bhram ki sthiti manodasha me parivartan, munh me chhale, daura padna aur hath-pairo me sun Hona aadi Probleme ho Sakti hai
islea Bazaar se Swasth aur Acche aam kharide aur unhen saf paani se dho khaye

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *