डिलीवरी के समय labor pain कैसे शुरू होता है delivery ke Samay labor pain kaise shuru Hota hai

डिलीवरी के समय labor pain कैसे शुरू होता है

डिलीवरी की डेट जैसे – जैसे नजदीक आती है वैसे – वैसे दिमाग में कई विचार आने लगते है कब होगी कैसे होगी नार्मल होगी या फिर सिजेरियन होगी

pregnant महिला को लगातार ,तेज और कम अंतराल में दर्द आने लग जाये तो यही है आपका हॉस्पिटल जाने का सही समय

सबसे पहले डॉक्टर आपकी नाड़ी की जाँच करके बच्चे के सुरक्षित होने की जाँच करता है

यदि आपका water break हो जायेगा तो डॉक्टर आपको admit कर लेगा

आपका water break हो जाये और labor pain शुरू नहीं हो रहा है तो डॉक्टर आपकों labor pain शुरू होने की medicine देगा

labor pain शुरू होने के बाद डॉक्टर गर्भाशय ग्रीवा की जाँच करता है कि गर्भाशय ग्रीवा का मुंह कितना खुला है

यदि गर्भाशय ग्रीवा का मुंह 8-10 सेंटीमीटर खुल जाये तो डिलीवरी नार्मल हो जाएगी परन्तु यदि गर्भाशय ग्रीवा का मुंह नहीं खुलेगा तो सिजेरियन डिलीवरी करनी पड़ सकती है

delivery ke Samay labor pain kaise shuru Hota hai

delivery ki date jaise – jaise njadik aati hai vaise – vaise dimag me kai vichar aane lgate hai kab hogi kaise hogi narmal hogi ya Phir sijeriyan hogi

pregnant mahila ko lagatar ,tej aur kam antaral me dard aane lag jaye to Yahi hai aapKa hospital jane Ka sahi Samay

Sabse Pehle doctor Aapki nadi ki janch karke bachhche ke surakshait hone ki janch karta hai

Yadi aapKa water break ho jayega to doctor Aapko admit kar lega

aapKa water break ho jaye aur labor pain shuru nahin ho raha hai to doctor Aapkon labor pain shuru hone ki medicine dega

labor pain shuru hone ke bad doctor garbhashay griva ki janch karta hai ki garbhashay griva Ka munh kitana khaula hai

Yadi garbhashay griva Ka munh 8-10 sentimitar khaul jaye to delivery narmal ho jaEggi parntu Yadi garbhashay griva Ka munh nahin khaulega to sijeriyan delivery karni pad Sakti hai

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *