delivery के दौरान गर्भाशय का मुंह(cervix) कितना खुलना चाहिए delivery ke dauran garbhashay Ka munh(cervix) kitana khaulana chahiey

delivery के दौरान गर्भाशय का मुंह(cervix) कितना खुलना चाहिए

जिससे शिशु का जन्म नार्मल हो सके

प्रसव के दौरान पहले गर्भाशय का मुंह धीरे-धीरे पतला होने लगता है, इसके बाद में गर्भाशय का मुंह धीरे-धीरे खुलने लगता है

प्रसव के पहले डॉक्टर आपका वेजिनल एग्जामिनेशन करता है जिससे डॉक्टर को अंदाजा हो जाये कि शिशु के जन्म में और कितना समय लगेगा

doctor आपका वेजिनल निरिक्षण करने के बाद आपको बतायेगे है कि 1 से 10 सेंटीमीटर में से अभी आपका गर्भाशय (cervix) कितना सेंटीमीटर खुला है

यदि cervix 10 सेंटीमीटर खुल जाता है तो शिशु का जन्म आसानी हो सकता है

delivery ke dauran garbhashay Ka munh(cervix) kitana khaulana chahiey

Jisse shishu Ka janm narmal ho sake
prasav ke dauran Pehle garbhashay Ka munh dhire-dhire ptala hone lgata hai, Iske bad me garbhashay Ka munh dhire-dhire khaulane lgata hai
prasav ke Pehle doctor aapka Veginal Eggjamineshan karta hai Jisse doctor ko andaja ho jaye ki shishu ke janm me aur kitana Samay lagega
doctor aapka Veginal nirikshan karne ke bad Aapko batayege hai ki 1 se 10 sentimitar me se abhi aapka garbhashay (cervix) kitana sentimitar khaula hai
Yadi cervix 10 sentimitar khaul jata hai to shishu Ka janm aasani ho skata hai

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *