बेबी के जन्म के बाद कब तक $_E-X से दूर रहना चाहिए beby ke janm ke bad kab tak $_E-X se dur rahna chahiey

बेबी के जन्म के बाद कब तक $_E-X से दूर रहना चाहिए

शिशु जन्म के बाद हर महिला के मन में एक सामान्य सा विचार आता है कि कितने समय के बाद $_E-X life शुरू कर सकते है

आइए जाने कि ऐसा करना सही और सुरक्षित कब रहेगा

शिशु के जन्म के बाद कम से कम डेढ़ महीने तक तो $_E-X के बारे में आप को बिलकुल भी नहीं सोचना है क्योकि आपके uterus के अंदरूनी घाव ठीक होने में समय लगता है

शिशु का जन्म एक बहुत ही जटिल प्रक्रिया है इससे एक महिला के शरीर में बहुत से परिवर्तन आ जाते है इसलिए जब तक आप शारीरिक और मानसिक रूप से तैयार नहीं हो जाती है आपको $_E-X दूर रहना चाहिए

बेबी के जन्म के तीन महीने बाद आप शारीरिक और मानसिक रूप से स्वस्थ हो पायेगी इसलिए अब आप निश्चिन्त होकर अपनी मैरिड लाइफ शुरू कर सकती है

परन्तु अब आपको pregnancy का विशेष ध्यान रखना होगा क्योकि भले ही आप स्तनपान कराती हो और चाहे आपका पीरियड नहीं आया हो ,पर इसका अर्थ यह नहीं कि आप pregnant नहीं हो सकती है बिना सावधानी के आप pregnant हो सकती है इसलिए सावधानी जरुर रखे ये आपके और आपके शिशु दोनों के स्वास्थ्य लिए बहुत जरुरी है

क्योकि इस समय में आपका शिशु ही आपकी प्राथमिकता है उसे आपकी सबसे ज्यादा जरूरत है इसलिए उसे नजरअंदाज बिलकुल ना करे

यदि बच्चे के जन्म के बाद आपके शरीर में कुछ बदलाव आये तो इनसे असहज महसूस ना करे और ना डरे ,यह सब सामान्य है जो कुछ समय बाद धीरे-धीरे ठीक हो जाते है

beby ke janm ke bad kab tak $_E-X se dur rahna chahiey

shishu janm ke bad har mahila ke man me ek samany sa vichar aata hai ki kitane Samay ke bad $_E-X life shuru kar sakte hai
aaiye jane ki Aesa Karna sahi aur surakshait kab rahega
shishu ke janm ke bad kam se kam dedh mahine tak to $_E-X ke bare me aap ko bilakul bhi nahin sochana hai kyoki Aapke uterus ke andaruni ghav thik hone me Samay lgata hai
shishu Ka janm ek bahut hi jatil prakriya hai Isse ek mahila ke sharir me bahut se parivartan aa jate hai islea jab tak aap sharirik aur manasik rup se taiyar nahin ho jati hai Aapko $_E-X dur rahna chahiey
beby ke janm ke tin mahine bad aap sharirik aur manasik rup se Swasth ho paayegi islea ab aap nishchint hokar Apni married Life shuru kar Sakti hai
parntu ab Aapko pregnancy Ka vishesh dhyan rakhana Hoga kyoki bhale hi aap Breastpaan karati ho aur chahe aapKa piriyad nahin aaya ho ,par isKa arth Yah nahin ki aap pregnant nahin ho Sakti hai bina savadhani ke aap pregnant ho Sakti hai islea savadhani jarur rakhe ye Aapke aur Aapke shishu dono ke svasthy lea bahut jaruri hai
kyoki is Samay me aapKa shishu hi Aapki Prathamikata hai use Aapki Sabse Jyada jarurat hai islea use njarandaj bilakul na kare
Yadi bachhche ke janm ke bad Aapke sharir me kuch Badlav aaye to inase asahj mahsus na kare aur na dare ,Yah sab samany hai jo kuch Samay bad dhire-dhire thik ho jate hai

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *