21 अगस्त के सूर्यग्रहण से pregnant महिला को क्या सावधानियाँ रखनी चाहिए

21 अगस्त के सूर्यग्रहण से pregnant महिला को क्या सावधानियाँ रखनी चाहिए

ग्रहण के समय pregnant महिला को पानी नहीं पीना चाहिए क्योकि ग्रहण के वक्त पानी पीने से  pregnant महिला को डीहाइड्रेशन हो जाता है जिससे शिशु  की त्वचा सूख जाती है।
सूर्य ग्रहण के समय pregnant महिला को चाकू, कैंची आदि का प्रयोग नहीं करना चाहिए क्योकि ऐसा माना जाता है ग्रहण के समय धारदार वस्तुओ के प्रयोग से जन्म लेने वाले शिशु का होंट कटा हुआ होता है 
सूर्य ग्रहण के समय  pregnant महिला को सुई का प्रयोग नहीं करना चाहिए कहते है कि ऐसा करने से जन्म लेन वाले शिशु के हृदय में छिद्र होता है
सूर्य ग्रहण के समय pregnant महिला को घर के अंदर रहना चाहिए घर के बाहर बिलकुल नहीं निकलना चाहिये और ग्रहण को नहीं देखना चाहिए क्योकि ग्रहण को देखन से गर्भ में पल रहे शिशु की आंखों पर प्रभाव पड़ता है और जन्म लेने वाला शिशु आँखों से डेरा होता है
सूर्य ग्रहण के समय pregnant महिला को सोना नहीं चाहिए बल्कि उसे  घर के अंदर बैठ कर मंत्रों का जाप करना चाहिए
सूर्य ग्रहण का समय पूरा होने के बाद गर्भवती महिला को स्नान करना चाहिए जिसे वह अपने शिशु को दूषित वातावरण की बीमारियों से बचा सके
21 अगस्त का सूर्यग्रहण इंडिया में नहीं होगा इसलिए ये सावधानियाँ इंडिया से बाहर रहने वाली pregnant महिलाओ को रखनी है जहाँ सूर्य ग्रहण होगा

21 August ke suryagrahan se pregnant mahila ko Kya savadhaniya rakhani chahiye

suryagrahan ke Samay pregnant mahila ko paani nahin pina chahiey kyoki grahn ke vakt paani pine se  pregnant mahila ko Dhaidreshan ho jata hai Jisse shishu  ki skin sukha jati hai.
sury grahan ke Samay pregnant mahila ko chaku, kainchi aadi Ka Prayog nahin Karna chahiey kyoki Aesa mana jata hai grahan ke Samay dharadar vastuo ke Prayog se janm lene vale shishu Ka honta kata huaa Hota hai
sury grahan ke Samay  pregnant mahila ko sui Ka Prayog nahin Karna chahiey kahte hai ki Aesa karne se janm len vale shishu ke hraday me chhidar Hota hai
sury grahan ke Samay pregnant mahila ko ghar ke andar rahna chahiey ghar ke bahar bilakul nahin nikalna chahiye aur grahn ko nahin dekhana chahiey kyoki grahan ko dekhan se garbh me pal rahe shishu ki aankhaon par prabhav padta hai aur janm lene vala shishu Aankhon se dera Hota hai
sury grahan ke Samay pregnant mahila ko sona nahin chahiey balki use  ghar ke andar baith kar Mantraon Ka jap Karna chahiey
sury grahan Ka Samay pura hone ke bad garbhavti mahila ko snan Karna chahiey jise vah Apne shishu ko dushait vatavarn ki bimariyon se bachha sake
21 August Ka suryagrahan India me nahin Hoga islea ye savadhaniyan India se bahar rahne vali pregnant mahilao ko rakhani hai jahan sury grahn Hoga 

 

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *